बाढ़ राहत सहायता योजना बिहार

Badh Rahat Yojana Bihar

बाढ़ राहत सहायता योजना बिहार। 6 हजार रुपये तक की सहायता। Badh Rahat Yojana in Bihar।

दोस्तों जैसा की आप जानते है आजकल बरसात के मौसम में बहुत से राज्य में बाढ़ आती है जिससे जान माल को बहुत हानि पहुँचती है। ऐसी प्रकार इस बार बिहार में बहुत बाढ़ आई है जिससे बिहार में जान माल को बहुत हानि पहुंची है। इसमें इस बार 11 जिले ऐसे है जिसमे लगभग 25 लाख से ज्यादा लोग इस बाढ़ से प्रभावित हो चुके है। बिहार में 10 जिले ऐसे है जिसमे बहुत से लोगो को अपनी जान गवानी पड़ गई है। इस सारी समस्या को देख़ते हुए बिहार के मुख्यमंत्री नितीश कुमार जी ने ” बिहार बाढ़ राहत सहायता योजना ” की शुरुबात की है। इस योजना के तहत बिहार में आई बाढ़ से जो भी परिवार प्रभावित हुआ है उसको बिहार सरकार 6 हजार रूपये धन राशि की सहायता करेगी।

जिसके साथ जिन लोगो का मकान, पशु, फसलों अदि का नुक्सान हुआ है उसके लिए बिहार सरकार अलग से धन राशि देगी। जो भी परिवार इस बाढ़ से प्रभावित हुए है सरकार उनकी एक सूची लिस्ट बनाएगी। फिर उन सबके बैंक के अकाउंट नंबर लिए जायेगे। जिससे सरकार पैसे सीदे उनके बैंक अकॉउंट में डाल सके और उनके परिबार को थोड़ी राहत मिल सके।

इस योजना के तहत बिहार के जिन क्षेत्रो में बाढ़ आई है वहां पर बिहार सरकार द्वारा शिविर लगाए जायेंगे फिर उन सभी लोगो की शुचि बनाई जाएगी। उसके बाद 1 सप्ताह के अंदर डीबीटी के द्वारा उनके बैंक के अकाउंट में पैसे सीधे वेज दिए जायेगे। जिन लोगो को फसलों की भरी हानि हुई है उनको भी बिहार सरकार द्वारा राहत पहुचाये जाएगी। जो लोग राहत शुचि में अपना नाम नहीं दे पाएंगे उनको भी लाभ पहुंचाया जायेगा।

जो लोग शिविर तक नहीं आपायेगे उनका नाम शुचि लिस्ट में लिख़ने के लिए सरकारी कर्मचारियों की सहायता ली जाएगी जिससे उन नाम भी शुचि लिस्ट में आसके। इस काम को करने के लिए ग्राम पंचायत और जनप्रतिनिधियों की भी सहायता ली जाएगी। जिससे आदिक से आदिक लोगो को लाभ मिल सके। पहले भी बिहार में बाढ़ आयी थी उस बाढ़ में भी जो लोग प्रभावित हूए थे उनकी भी बिहार सरकार ने एक लिस्ट बनाई थी।

Badh Rahat Yojana Bihar

कौन – कौन सी स्थिति में आपको कितने रूपये की सहायता मिलेगी :

दोस्तों बिहार सरकार द्वारा बाढ़ से प्रभावित हुए परिबारों के लिए 6 हज़ार रूपये की राहत राशि दे रही है। जिन लोगो का बाढ़ के कारण पशु, घर, जान माल का नुकसान हुआ है उसके लिए सरकार उन्हें अलग से मुआवजा दे रही है। जिसका हमने बिस्तारपूर्वक निचे हमने बताया है।

यदि बाढ़ के कारण किसी परिवार के सदस्य की मृत्यु हो गए है उसके लिए सरकार 4 लाख का मुआवजा देगी।

  • इस बाढ़ राहत योजना में 6 हजार रूपये की सरकार द्वारा सहायता की जा रही है।
  • कपड़ो की मदद के लिए सरकार 1800 रूपये की सहायता कर रही है।
  • बर्तन के लिए सरकार 2000 रूपये की मदद कर रही है।
  • बाढ़ के कारण जिन लोगो की फसल बर्वाद हो गए है उनके लिए सरकार प्रति हेक्टेयर फसल के हिसाब से 6800 रूपये की सहायता कर रही है।
  • बाढ़ से जिन लोगो को उनकी गाय और भैंस का नुकसान हुआ है उसके लिए बिहार सरकार प्रति गाय और भैंस के लिए 30 हजार रूपये की सहायता करेगी।
  • जिन परिवारों का कच्चा -पक्का मकान बाढ़ के द्वारा टूट गए है उनके लिए सरकार 95100 रूपये की सहायता करेगी।
  • जिन परिवारों का पक्का मकान क्षतिग्रस्त हुआ है उनके लिए सरकार 5200 रूपये की मदद करेगी।
  • जिन परिवारों का कच्चा मकान क्षतिग्रस्त हुआ है उनके लिए सरकार 3200 रूपये की मदद करेगी।
  • झोपडी का नुकसान होने पर सरकार 4100 रूपये की सहायता करेगी।

बाढ़ की सहायता में उपयोग होने बाले दस्तावेज और पात्रता :

  • दोस्तों जो आपका क्षेत्र है जहां पर आप रहते है उस क्षेत्र का नाम बाढ़ से प्रभावित क्षेत्र में आना चाहिए।
  • जो आपकी जगह होगी वह किसी ग्राम पंचायत या गांव में आनी चाहिए।
  • आपके पास अपना आधारकार्ड, बैंक में आपका खाता और उसका अकाउंट नंबर होना चाहिए।
  • आपका पूरा परिवार जो है वह बाढ़ से क्षतिग्रस्त होना चाहिए।
Badh Rahat Yojana Bihar

उद्देश्य :

दोस्तों जैसे के आप जानते है की बरसात के समय में पानी का स्तर बहुत बढ़ जाता है। जिसे बहुत से राज्य में बाढ़ अति है। उसी मेसे एक राज्य बिहार है जहां हर साल पानी का स्तर बढ़ने से बरसात के समय बाढ़ आ जाती है। जिससे बहुत से परिबार प्रभावित होते है। जिससे बाढ़ के कारण उन्हें अपना घर छोड़ना पड़ता है। बाढ़ के कारण बहुत से लोग आर्थिक रूप से कमजोर हो जाते है। बाढ़ के कारण बहुत से लोगो को जान माल की हानि होती है। ये सब देख़ते हुए बिहार सरकार ने बाढ़ से प्रभाबित लोगो को आर्थिक सहायता करने के लिए इस योजना की शुरुबात की है।

इस योजना के द्वारा जो लोगो की हानि हुए है उसकी थोड़ी बहुत बरपाये की जा सके। साथ ही बाढ़ के द्वारा जिन लोगो को पशु और घर माकन का नुकसान हुआ है उनके लिए सरकार अलग से मुआवजा देने का एलान किया गया है। इस योजना के द्वारा लोग अपनी थोड़ी बहुत आवश्यकता को पूरा कर सके। बाढ़ के द्वारा जिन लोगो का फसल का नुकसान हुआ है उनको बिहार सरकार प्रति हेक्टेयर के हिसाब से 6800 रूपये की राशि प्रदान करेगी। जिस परिवार का पशु नुकसान हुआ है उनके लिए भी बिहार सरकार मुआवजा प्रदान करेगी।

योजना के लिए आवेदन करे :

दोस्तों इस योजना के लिए आपको कोई भी आवेदन नहीं करना होगा। जो बाढ़ से प्रभावित क्षेत्र है वहां पर बिहार सरकार द्वारा शिविर लगाए जायेगे। जिसमे जाकर आपको अपना नाम बताना होगा। इस शिविर में काम कर रहे कर्मचारियों आपसे कुछ जानकारी पूछेंगे जो आपको उन्हें बतानी होगी जैसे आपका नाम, आपका पता, आपके परिवार में कितने सदस्य है, बैंक का खाता नंबर अदि। ये सब डिटेल सरकार द्वारा ली जाएगी। उसके बाद एक हफ्ते के अंदर पैसे आपके बैंक के अकाउंट में डाल दिए जायेगे। जो भी बाढ़ से प्रभावित परिवार होगा उसको सिर्फ शिविर में जाकर अपना नाम दर्ज करवाना है। ताकि बिहार का आपदा प्रबंधन विभाग आपके साथ सम्पर्क कर सके।

मेरे प्यारे दोस्तों आज हमने आपको बाढ़ राहत सहायता योजना बिहार के बारे में बिस्तारपुरबक बताया है यदि आपको इस योजना के बारे में कुछ भी पूछना होतो हमें नीचे कम्मेंट बॉक्स में पूछ सकते हैं। हमारी द्वारा आपको इसके रिलेटिड आपको पूरी जानकारी देंगे। और अधिक योजनाओं के बारे में जानने के लिए हमारे साथ जुड़े रहें।धन्यवाद-

और यदि आप हमारी बिहार जल जीवन हरियाली योजना 2020 ऑनलाइन आवेदन के बारे में जानना चाहते हैं तो हमारे इस आर्टिकल पर क्लिक करें

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *