कामधेनु योजना 2020|पशुपालन व मत्स्य पालन लोन योजना :

state yojna

राष्ट्रीय कामधेनु योजना|कामधेनु योजना|प्रधानमंत्री कामधेनु योजना|कामधेनु लोन योजना|Kamdhenu Yojana|Kamdhenu loan Yojana in hindi| PM Loan Scheme for Animal Husbandry & Fisheries | प्रधानमंत्री कामधेनु डेयरी परियोजना |

नमस्कार मेरे प्यारे दोस्तों आज हम आपको Pradhan Mantri Kamdhenu Yojana for cows के बारे में बिस्तारपुरबक बतायेंगे। हम आपको इस योजना के बारे में शबी जानकारिया लाये है ताकि आप इसका लाभ उठा सकें। इस योजना की शुरू बात हमारी नरेंद्र मोदी सरकार ने अपने अंतिम बजट में की है। इस योजना से सरकार ने गायो से अलग से आयोग शुरू करने का एलान किया है। इस योजना के तहत सरकार द्वारा पशुपालन व मत्स्य पालन पर काम ब्याज पर लोन दिया जायेगा। इस योजना में सरकार पशुपालन व मत्स्य पालन पर कम से कम 2% की छूठ देगी।

इस योजना से जो है बो किसान जो है अपनी आये बड़ा सकते है। जैसे की आप जानते है की भारत जो एक कृषि प्रधान देश है तो हमारी केंद्र सरकार ने किसानो के हित में इस योजना की शुरुबात की है। इससे किसान जो है बो एपीआई आये बड़ा सकते है और अपने जीबन की अच्छी शुरुबात कर सकते है।

इस योजना की शुरुबात सरकार ने 2020-21 बजट में है। इस योजना के लिए मोदी सरकार ने 750 करोड़ रूपये का प्रावधान किया गया है। इस योजना के तहत सरकार ने पशुपालन और मत्स्य पालन को भी बढ़ावा दिया है। इन योजनाओ पर लोन लेने के लिए सरकार ने 2% की छूठ दे रही है और यदि इसके साथ कोई प्राकृतिक आपदा हुई तो सरकार आपकी 3% तक सहायता करेगी तो सरकार आपको 5% तक का लाभ दे रही है।

प्रधानमंत्री कामधेनु योजना 2020-21 :

जब हमारा कोई किसान भाई पशुपालन या मत्स्यपालन के बारे में कम करने के लिए सोचता है तो बह पैसे कम होने के कारण नहीं कर पता परन्तु अब बो इस प्रधानमंत्री कामधेनु योजना से शुभारम्भ कर सकता है। हमारी भारत सरकार भी चाहती है की पशुपालन और मत्स्य पालन को बढ़ावा के कार्य को बढ़ावा मिले। जो हमारे किसान भाई इस प्रधानमंत्री कामधेनु योजना का लाभ लेंगे उनका सरकार दुयारा क्रेडिट कार्ड भी बनाया जायेगा। इसके साथ ही गाये पालन के लिए सरकार जो है बह 500 रूपये हर महीने देगी। जो किसान भाई यदि पशु पालन और मत्स्य पालन करना चाहते है, उसके लिए हमरी सरकार जो है बो लोन देगी और उस लोन पर सरकार 2% ब्याज पर छूट भी देगी।

यदि कोई प्राकृतिक आपदा होती है और किसान भाइयो को हानि होती है तो हमारी सरकार उस पर 3% की छूठ देगी तो आपको सरकार द्वारा 5% का लाभ होगा। इस योजना के द्वारा हमरी सरकार का मानना है की गौमाता के सम्मान में हमरी सरकार अब पीछे नहीं रहेगी। इस योजना के तहत सरकार जो है कामधेनु योजना पर 750 करोड़ रुपये खर्च करेगी।

राष्ट्रीय कामधेनु आयोग (National Kamdhenu Commission)

हमारी वित्त मंत्री ने बजट भाषण में राष्ट्रीय कामधेनु आयोग (Rashtriya Kamdhenu Yojana) की घोसणा की और साथ ही उन्होंने राष्ट्रीय गोकुल आयोग भी बनाया। इस कामधेनु योजना के लिए हमारी सरकार ने 750 करोड़ रूपये बजट दिया है। उन्होंने कहा की गौ माता के सम्मान के लिए और गौ माता को आगे बढ़ावा देने के लिए निरंतर प्रयास करेगी।

राष्ट्रीय कामधेनु योजना 2020 की विशेषताएं :

इस योजना के द्वारा हमारी सरकार जो है बह गौ माता पालन पशुपालन और मत्स्य पालन को बढ़ावा देना चाहती है। जिससे दुग्ध उत्पादन में बढ़ोत्तरी होगी। और जो हमारे किसान भाई हैं बह आत्म निर्भर होकर कार्य कर सकेंगे तथा ये उनकी आय का साधन भी बन जाये गा। जिससे ये अपने घर का खर्च और रोजमर्रा की चीजे ले सकेंगे इससे उनकी उनती होगी। इसीलिए हमारी सरकार जो है बह पशुपालन और मत्स्य पालन की तरफ काफी विशेष रूप से ध्यान दे रही है। इसी तरह जब हमारे देश में दूध का उत्पादन बढ़ेगा तो हर ब्यक्ति के स्वास्थ्य में सुधार होगा। इस योजना के साथ सरकार जो है गोकुल आयोग का भी गठन करेगी।

प्रधानमंत्री कामधेनु योजना के लाभ :

  • हमारी मोदी सरकार ने प्रधानमंत्री कामधेनु योजना का एलान करते हुए कहा की हम जो है पशुपालन को बढ़ावा देंगे।
  • इस योजना के तहत सरकार जो है किसानो को क्रेडिट कार्ड बना कर देगी।
  • जिसमे सरकार जो है बो हर महीने 500 रुपए गाये पलने के लिए मदद करेगी।
  • इस कामधेनु योजना के तहत पशुपालन और मत्स्य पालन पर मिलने बाले लोन पर सरकार जो है 2% की छूट देगी।
  • जब कोई प्राकृतिक आपदा आएगी और उससे होनी बाली हानि पर सरकार जो है 3% की छूट देगी।

मेरे प्यारे दोस्तों आज हमने आपको कामधेनु योजना के बारे में बिस्तारपुरबक बताया है यदि आपको इस योजना के बारे में कुछ भी पूछना होतो हमें नीचे कम्मेंट बॉक्स में पूछ सकते हैं। हमारी द्वारा आपको इसके रिलेटिड आपको पूरी जानकारी देंगे। और अधिक योजनाओं के बारे में जानने के लिए हमारे साथ जुड़े रहें।धन्यवाद-

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *