रेल योजना किसान 2020

      No Comments on रेल योजना किसान 2020
Rail-Yojana-Kisan-2020

रेल योजना किसान 2020। ऑनलाइन बुकिंग रेल योजना किसान 2020।Online Booking Rail Kisan Yojana

दोस्तों आज हम आपको रेल योजना किसान 2020 के बारे में बताने जा रहे है। इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको ये बतायेगे की आप इस योजना में आप ऑनलाइन बुकिंग कैसे कर सकते। इस योजना के द्वारा कौन कौन सी ट्रेनें किसानो के लिए चलाये गए है और उन ट्रेनों की लिस्ट कौन सी है ये सब हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से बतायेगे। तो हमारे इस आर्टिकल को पूरा अंत तक पढ़े और इस योजना का लाभ उठाये।

इस योजना की शुरुबात हमारी केंद्र सरकार द्वारा की गई है। इस योजना को जो बजट फरवरी में पेश किया गया था उस बजट में इस योजना को शुरू किया गया था। इस योजना के द्वारा हमारे देश के किसानो को रेल के द्वारा लाभ पहुँचाना है। इस योजना को 7 अगस्त 2020 से पूरी तरह शुरू कर दिया गया है। इस योजना के द्वारा किसानो के कृषि उत्पादों के लिए रेलगाड़िया चलाई जाएगी। जिसमे जैसे फल , सब्जी अदि को सही समय पर मंडियों तक पहुंचाया जा सके ताकि वह खरब न हो।

इस योजना के तहत भारतीय रेलवे के द्वारा 7 अगस्त को पहली ट्रैन चलाई गई है। इस ट्रैन को सवसे पहले महाराष्ट्र के देवलाली से बिहार के दानापुर के बीच शुरू किया है। इस ट्रैन को सुबह 11 बजे महाराष्ट्र के देवलाली स्टेशन से भेजा जायेगा और इसको बिहार के दानापुर स्टेशन तक भेजा जायेगा। इस ट्रैन को 1519 किमी का सफर करना पड़ेगा। और ये सफर ट्रैन 32 घंटे तय करेगी। इस योजना के तहत निजी भागीदारी योजना में किसानो के लिए ट्रैन में शीत भंडारण और किसान उपज के परिवहन की भी व्यवस्था की गई है। इस योजना के द्वारा किसानो को बहुत सहायता मिलेगी। इस योजना का लाभ लेने के लिए आपको इसमें ऑनलाइन बुकिंग करनी पड़ेगी।

Rail-Yojana-Kisan-2020

इस योजना की नई अपडेट :

दोस्तों हमारे प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने इस योजना के तहत एक नई घोषणा की है। इस योजना के द्वारा दी जाने वाली सब्सिडी में किसानो को सिर्फ 50 % किराया ही देना पड़ेगा। इस सब्सिडी की प्रिक्रिया को 14 अक्टूबर से शुरू किया गया है। इस योजना में किसानो को रेल का किराया जो है वह सिर्फ 50 % ही देना होगा और बाकि का किराया जो है वह खाद्य प्रसंस्करण उधोग मंत्रालय द्वारा दिया जायेगा। इस सब्सिडी को सिर्फ खाद्य प्रसंस्करण उधोग मंत्रालय द्वारा सिर्फ फल और सब्जियों के ऊपर ही दिया जायेगा।

सब्सिडी दी जाने वाली वस्तुयें :

इस योजना के द्वारा जिन खाद्य पदार्थो के ऊपर सब्सिडी दी जाएगी वह फल और सब्जिया है। जिनमे

फल – आम ,केला ,अमरुद , कीवी, लीची, पपीता ,मौसमी ,संतरा ,किन्नू , निम्बू ,अन्नानास , अनार , कटहल ,सेब, आवला ,नाशपाती आदि

सब्जिया – फ्रेंच बीन्स , करेला ,बेंगन , शिमला मिर्च ,गाजर , फूलगोभी , हरी मिर्च , ओकरा , ककड़ी, मटर , लहसुन ,प्याज़ , आलू ,टमाटर आदि

योजना का उद्देश्य :

दोस्तों जैसे की आपको पता है की कोरोना महामारी हर दिन बढ़ती ही जा रही है। इससे बहुत से लोगो को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। इससे हमारे देश के किसानो को फसल बेचने में बहुत ज्यादा परेशानी हो रही है। वह सही समय पर अपनी फसले मंडी तक नहीं ले जा पा रहे है। इसी साडी परेशानी को देख़ते हुए हमारी केंद्र सरकार ने इस योजना को शुरू किया है। ट्रैन की सहायता से किसान अपना अनाज फल सब्जिया समय पर मंडी तक पहुंचा सकता है। इससे उनकी फसल ख़राब नोने से बच पायेगी और उसको अपनी फसल से वह अच्छी आमदनी कर पायेगा जिससे वह अपने घर और अपने परिवार का अच्छे से पालनपोसण कर सकेगा।

योजना के मुख्य तथ्य :

  • इस योजना के द्वारा किसान अपनी फल , सब्जिया आदि को सही समय पर ट्रैन के माध्यम से मंडी और बाजार तक पहुंचा सकते है।
  • इस योजना को वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के द्वारा इस साल फरवरी के पेश बजट में इस योजना को शुरू किया गया है। जो फल और सब्जिया जल्द ही ख़राब हो जाती है उनके लिए किसान रेल चलाई गई है।
  • यह एक स्पेशल पार्सन ट्रेन होगी जिसका उपयोग सिर्फ अनाज, फल और सब्जियों को आने तथा ले जाने के लिए उपयोग में लाया जायेगा।
  • इस योजना के द्वारा जो किसान की शीत भंडारण उपज होती है उसकी भी ट्रैन में अच्छे से ब्यबस्था की गई है।
  • इस योजना के तहत चलने वाली पहली ट्रैन जो है वह चार राज्यों से होकर जाएगी जिसमे महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश और बिहार बहुत लाभ होगा।
Rail-Yojana-Kisan-2020

ट्रैन के रूट :

इस योजना के द्वारा चलने वाली ट्रैन जो है वह देवलाली से चलेगी और उसके बाद वह नासिक रोड़, मनमाड़, जलगांव, भुसावल, बुरहानपुर, खंडवा, इटारसी, जबलपुर, सतना, कटनी, मणिकपुर, प्रयागराज, पं दीनदयाल उपाध्याय नगर और बक्सर से दानापुर में जाकर रुकेगी। इस ट्रैन में ताजी सब्जियों, फलों, फूल, प्याज तथा अन्य कृषि के उत्पाद भरे होंगे। इस ट्रेन को 7 अगस्त से शुरू किया गया है। 20 अगस्त से ये ट्रैन देवलाली से दानापुर के लिए चलेगी। ये ट्रैन हर रविवार को दानापुर से देवलाली के लिए चलेगी। इससे हमारे देश के महाराट्र, मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश और बिहार के किसानो को बहुत लाभ पहुंचेगा।

प्रति टन किराया :

इस योजना के द्वारा किसानो को अपनी फल, सब्जियां, दूध , अनाज अदि का प्रति टन के हिसाब से किराया देना होगा जिसमे किराया कुछ इस प्रकार से है :

खंडवा से दानापुर- Rs 3148/- प्रति टन
बुरहानपुर से दानापुर- Rs 3323/- प्रति टन
भुसावल से दानापुर- Rs 3459/- प्रति टन
जलगांव से दानापुर- Rs 3513/- प्रति टन
मनमाड से दानापुर- Rs 3849/- प्रति टन
नासिक रोड से दानापुर- Rs 4001/- प्रति टन
देवलाली से दानापुर- Rs 4001/- प्रति टन

योजना केलिए ऑनलाइन बुकिंग कैसे करे :

जो भी हमारे देश के किसान भाई है इस योजना का लाभ उठाना चाहते है उन्हें अभी थोड़ा इंतज़ार करना होगा क्योकि अभी सरकार द्वारा कोई भी ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन या बुकिंग इस योजना के लिए शुरू नहीं की है। जैसे ही हमारी सरकार द्वारा इस योजना के लिए कोई भी ऑनलाइन प्रिक्रिया शुरू की जाएगी हम आपको अपने इस आर्टिकल के माध्यम से वह सारी जानकरी आपको बता देंगे तो हमारे इस आर्टिकल के साथ जुड़े रहे और इस योजना का लाभ उठाये। अगर आपको इस योजना से सम्बादित और जानकारी लेना चाहते है तो इस लिंक के ऊपर क्लिक करे।

मेरे प्यारे दोस्तों आज हमने आपको रेल योजना किसान 2020 के बारे में बिस्तारपुरबक बताया है यदि आपको इस योजना के बारे में कुछ भी पूछना होतो हमें नीचे कम्मेंट बॉक्स में पूछ सकते हैं। हमारी द्वारा आपको इसके रिलेटिड आपको पूरी जानकारी देंगे। और अधिक योजनाओं के बारे में जानने के लिए हमारे साथ जुड़े रहें।धन्यवाद-

यदि आप हमारी प्रधानमंत्री FPO किसान योजना 2020 के बारे में जानना चाहते हैं तो हमारे इस आर्टिकल पर क्लिक करें

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *