उत्तर प्रदेश बाल श्रमिक विद्या योजना आवेदन। UP online apply bal sharmik yojana form

bal sharmik yojana

मेरे प्यारे देशवासियों जैसे की आप जानते हैं हमारी सरकार देश के नागरिकों के लिए विभिन्न प्रकार की योजनाएं निकालती रहती हैं इसीलिए उत्तर प्रदेश सरकार के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्य नाथ जी ने एक नई योजना आयोजित की है। इस योजना में सरकार ने 8 से लेकर 18 तक की उम्र के बच्चों को छात्रवृत्ति देने की घोषणा की है। जो बच्चे अपने परिवार की मजबूरियों की बजह से काम करने लग पड़ते हैं और पढ़ाई करने की उम्र में पढ़ाई नहीं करते उनके लिए इस योजना की शुरुआत की गई है। इस योजना की पूरी जानकारी के लिए हमारे इस लेख को अंत तक ज़रूर पढ़े।

इस योजना को अभी हाल ही में शुरू किया गया है 12 जून 2020 को इस योजना को घोषणा की गई पहले चरण में 2000 बच्चों की सूचि बनाई गयी है। यह योजना अनाथ बच्चों और मजदूरी कर रहे बच्चों के लिए चलाई गयी है। आठबी कक्षा से लेकर दसबीं कक्षा तक के बच्चों के लिए प्रतिवर्ष 6000 रूपए देगी और इससे कम कक्षा में पढ़ने वाले छात्रों को प्रतिमाह 1000 रूपए लड़के को और 1200 रूपए लड़की को दिए जाएंगे।

bal sharmik yojana

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्य नाथ जी ने कहा है कि जो बच्चे बचपन से ही परिवार के लिए काम करना शुरू कर देते हैं। इस स्थिति में बच्चों के मानसिक तथा शारीरिक विकास पर प्रभाव डालते हैं। इससे हमारे समाज और राष्ट्र की अपूरणीय क्षति है। कुछ बच्चे जिन्हे पढ़ाई करनी चाहिए वो बच्चे अपने परिवार का भरण पोषण करने के लिए बचपन से ही मजदूरी करना शुरू कर देते हैं। यू पी सरकार द्वारा चलाई गयी इस योजना में उनकी आर्थिक स्थिति मज़बूत होगी इस योजना के ज़रिये लड़कियों की ज्यादा सहायता की जा रही है।

उनके लड़को से ज्यादा रूपए इसलिए दिए जा रहे हैं क्योंकि कुछ लोग लड़कियों को पढ़ते नहीं है उन्हें घर के बाहर तक नहीं निकाला जाता उनसे घर के काम करवाए जाते हैं। इस चीज को देखते हुए उन्हें ज्यादा रूपए दिए जा रहे हैं। ताकि उनको प्रोत्साहन दिया जा सके उन्हें पढ़ाया जा सके उनको पढ़ाई में सहायता मिल सके उन्हें काम से दूर रखें और उन्हें उच्च शिक्षा मिल सके।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्य नाथ जी ने कुछ ट्वीट भी किया उन्होंने लिखा है ” प्रत्येक बच्चा असीम संभावनाओं का प्रकाश पुंज है अतः हमारा लक्ष्य उनका भविष्य उज्जवल बनाना है।

योजना की मुख्य बातें :-

योजना का नामबाल श्रमिक विद्या योजना ।
लॉन्च किसके द्वारा की गईउत्तर प्रदेश सरकार के मुख्यमंत्री योगी जी ने द्वारा ।
लॉन्च की डेट12 जून 2020
लाभार्थीअनाथ और मजदूरी करने वाले बच्चे।
लक्ष्यहर एक बचा स्कूल जा सके
सहायता राशिलड़कों के लिए एक हज़ार रूपए और लड़कियों के लिए बारह सौ रूपए और 8th 9th 10 के बच्चों को सलाना 6000 रूपए

उत्तर प्रदेश बाल श्रमिक योजना का लक्ष्य :-

इस योजना में अनाथ और मजदूरों के बच्चे शामिल होंगे इस योजना में लड़को और लड़कियों दोनों को यह सहायता दी जाएगी जिन बच्चों की आर्थिक स्थिति अछि नई होगी और वो जो बचपन से ही काम करना शुरू कर देते हैं। जब उनको पढ़ाई करनी चाहिए तब वह मजदूरी करते हैं ना तो उनकी शारीरिक प्रगति होगी और न मानसिक प्रगति होगी इस बजह से वो अपना बचपन भी नहीं जी पाते इसी समस्या को देखते हुए उत्तर प्रदेश सरकार के मुख्यमंत्री योगी जी ने इस योजना की शुरूआत की है।

जिससे उनका भविष्य उज्जवल हो सके, इस योजना में उन राज्यों को शामिल किया गया है। जिसमें बाल श्रमिकों की संख्या ज्यादा है COVID19 की बजह से जो लॉक डाउन हुआ। उसमें कई लोग शहरों से वापिस आकर गांव में रहने लगे हैं प्रत्येक जिले में अधिकारी नियुक्त किये गए हैं।

वो इस कामकाज को देखेंगे उत्तर प्रदेश राज्य में कई नई योजनाएं लागू की गई हैं। जिससे मजदूर लोगों को काम मिलेगा और वो अपने परिवार का अच्छे से भरण पोषण कर सकते हैं। यह एक ऐसी योजना है जिसमें बच्चों और उनके परिवारों के सभी प्रकार के खर्चों को उठाने का दायित्व श्रम विभाग अपने ऊपर लेने जा रहा है।

उत्तर प्रदेश बाल श्रमिक योजना के लिए कागज़ात :-

जन्म प्रमाण पत्र, मोबाइल नंबर, आधार कार्ड, पासपोर्ट साइज फोटो, बैंक अकाउंट नंबर।

उत्तर प्रदेश बाल श्रमिक योजना के लाभ :-

  • छोटे बच्चों को काम नहीं करना पड़ेगा सरकार उनको पढ़ाई के लिए पैसा देगी इससे उनका शारीरिक और मानसिक विकास होगा।
  • इस योजना में लड़कों को एक हज़ार रूपए और लड़कियों को बारह सौ रूपए देने का प्राभदान दिया है।
  • इस योजना से बच्चों को आगे पढ़ने के लिए प्रेरणा मिलेगी।
  • इस योजना के अंतरगर्त जिन बच्चों को लाभ मिल रहा है उनमे से दो हज़ार बच्चे बाल श्रम कर रहे थे।
  • हर जिले के सौ सौ बाल श्रमिकों को इस योजना का लाभ मिलेगा।
  • इस योजना से बहुत से बच्चों को लाभ मिलेगा।
 bal sharmik yojana

उत्तर प्रदेश बाल श्रमिक योजना के लिए योग्यता :-

  • इस योजना का लाभ उन लोगों को दिया जाएगा जिसमें वो ज़िले आते हों जो चयनित हैं।
  • इस योजना का लाभ आठ वर्ष से लेकर अठरहा वर्ष के लड़का और लड़कियों को ही मिलेगा।
  • जिन बच्चों के माता पिता नहीं है और कोई नहीं है वो भी इस योजना के पात्र हैं।
  • अगर किसी बच्चे के माता पिता बीमार रहते है वो भी इस योजना का लाभ उठा सकते हैं।
  • इस योजना के माध्यम से उनको भी लाभ मिलेगा जिनके माता पिता या कोई एक दिव्यांग है उनको भी इस योजना का लाभ मिलेगा।

उत्तर प्रदेश बाल श्रमिक योजना के लिए आवेदन कैसे करें :-

इस योजना के लिए सरकार ने अभी तक जानकारी नहीं दी है इसमें कई अधिकारियों को काम पर लगाया गया है। वो उन बच्चो की सूचि निकालें जो बाल श्रम करते हैं और जो अनाथ हैं या किसी भी कारण पढ़ने से बन्चित हैं। उनको पढ़ाई के लिए प्रोत्साहन देना तथा उनके भविष्य को उज्जवल बनाना अगर आवेदन के लिए जानकारी मिलेगी तो आपको सूचित कर दिया जायेगा।

 bal sharmik yojana

मेरे प्यारे दोस्तों आज हमने आपको उत्तर प्रदेश बाल श्रमिक विद्या योजना आवेदन के बारे में बिस्तारपुरबक बताया है यदि आपको इस योजना के बारे में कुछ भी पूछना होतो हमें नीचे कम्मेंट बॉक्स में पूछ सकते हैं। हमारी द्वारा आपको इसके रिलेटिड आपको पूरी जानकारी देंगे। और अधिक योजनाओं के बारे में जानने के लिए हमारे साथ जुड़े रहें।धन्यवाद-

और यदि आप हमारी उत्तर प्रदेश सफाई कर्मी भर्ती 2020 के बारे में जानना चाहते हैं तो हमारे इस आर्टिकल पर क्लिक करें

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *